Friday, July 25, 2014

HIGHLIGHTS FROM MYSORE

YOGA SATRA at Bannur:
Vivekananda Kendra Kanyakumari Mysore Chapter conducted 7 days yoga satra at its sub center at Bannur from 14th July to 20th July at Vivekananda School, Bannur.  15 people attended the satra.

DEEPA POOJA  at Note Mudrana Nagar, Mysore:
Vivekananda Kendra Kanyakumari Mysore Chapter conducted  Deepa Pooja on the occasion of  Guru poornima celebration on 21st  July 2014 at Reserve Bank Of India Colony, Note Mudranan Nagar. Sri H S Thakur Desai, General Manager, BRBNM, Mysore inugarated by lighting the lamp. Smt. Buvaneshwari, President, PRGATI, BRBNM, Working Womens Forum, Note Mudrana Nagar organized the programme. Importance and significance of Deepa Pooja told by organizer of Vivekananda Kendra, Mysore. Smt Geeta 
conducted the Deepa Pooja. 35 mothers performed pooja.

RAMAYANA BALA KANDA PARAYANA:
Vivekananda Kendra Kanyakumari, Mysore Chapter organized RAMAYANA PARAYANA on 27th July 2014 at Vivekananda Kendra, Meru, 1ST Main, Jayanagar at 4pm to 6 pm.  For more information please contact :  0821-2460155 or  9449488228.

VKRDP MONTHLY REPORT JUNE 2014

VKRDP Activities report June 2014:


धार में गुरुपूर्णिमा कार्यक्रम

१७ जुलाई विवेकानंद केंद्र धार में गुरुपूर्णिमा उत्सव सम्पन हुँआ। कार्यक्रम में गुरु कृपा से ही आत्म उन्नति का पथ प्रशस्त होता है। जैसे  ही शिष्य परम को प्राप्त करते है, स्वामी विवेकानंद जैसा विराट व्यक्तित्व समाज को प्राप्त होता है। यह बात विवेकानंद केन्द्र द्वारा वात्सल्य मंदिर मे गुरुपुजन कार्यक्रम मे मुख्य वक्ता डॉ.दीपेन्द्र शर्मा ने कही। उन्होंने कहा की गुरु जिस चेतना की अनुभूति कठिन तप से करता है वह शिष्यों मे आसानी से स्थानातरित  कर अनुकरणीय उदहारण प्रस्तुत करता है केन्द्र परंपरा अनुसार ओंकार का पूजन भी किया गया, गुरु स्त्रोत का पाठ विनोद मिश्र जी ने किया, गीत जैनसी वर्मा ने और शांति मंत्र दर्शना दुबे ने किया। कार्यक्रम का संचालन नवीन जी राठौर ने किया।

पटना में गुरुपूर्णिमा का उत्सव

विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी शाखा पटना ने 12.7.2014 को गुरु पूर्णिमा उत्सव कमला नेहरु शिशु विहार (कार्यालय से 800 मीटर दूर) में  हर्षोल्लास के साथ मनाया गया | इस अवसर पर 60 की संख्या में प्रबुध्द श्रोताओं उपस्थित हुए | उत्सव के मुख्य वक्ता  डॉ अजय कुमार (प्रख्यात चिकित्सक) पूर्व अध्यक्ष  I.M.A. एवं मुख्य अतिथि श्री विवेकानन्द महापात्रा G.M., S.B.I. Patna थे | उत्सव का आरम्भ शांति पाठ से हुआ एव केंद्र का परिचय श्री सुरेशज (जीवनव्रती कार्यकर्ता) द्वारा दिया गया | इस अवसर पर मुख्य वक्ता डॉ अजय कुमार ने गुरु शब्द का विश्लेषण किया एवं उसकी महता पर प्रकाश डाला | गुरु शिष्य परम्परा पर बहुत ही रोचक एव सारगर्भित संस्मरण सुनाए | मुख्य अतिथि महापात्रा जी ने VKK द्वारा इस उत्सव के मनाये जाने की विशेषता और  विवेकानन्द केंद्र  द्वारा मानव निर्माण हेतु  देश भर में चलाये जा रहे विभिन्न आयामों के बारे में बताया | इस अवसर पर केंद्र द्वारा BOOK STALL भी लगाया गया |उत्सव का समापन पुष्पांजली एव प्रसद वितरण से हुआ |

क्रमश  दिनांक 19.7.2014 को गुरु पूर्णिमा के अवसर पर कमला नेहरु शिशु बिहार में संस्कार वर्ग के बच्चों के द्वारा माता पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया | इस अवसर पर 25 बच्चों ने अपनी माताओं का पूजन किया और माताओं ने सभी बच्चों को मामतामयी स्नेह और शुभ आशीष  दिया |  मुख्य अतिथि के रूप में महिला कॉलेज के प्रध्यापक डॉ. वंदना कुमारी ने माता पूजन के महत्व पर अपना विचार प्रगट किया | तत्पशचात पुष्पांजली एव प्रसाद वितरण हुआ |

युवा प्रेरणा शिविर - पटना

विवेकानन्द केंद्र कन्याकुमारी ,शाखा पटना द्वारा दिनांक 29.6.2014  को अभियंता भवन बोरिंग रोड में युवा प्रेरणा शिविर का आयोजन किया गया | शिविर का समय प्रात 9.00 बजे  से 1.00 बजे तक रखा गया | शिविर में 25 युवाओं ने भाग लिया| इस अवसर पर युवाओं को प्रेरणा हेतु स्वामी जी के जीवनी पर आधारित power point prensentation दिखाया गया | MEJSPके प्रान्त पर्व प्रमुख डॉ. पंकज  ने युवाओं को स्वामी जी के जीवनी से अवगत कराया|इस अवसर पर चर्चा (G.D) का आयोजन किया गया |चर्चा का विषय था 1. श्रेष्टता की परिभाषा एवं मापदंड  2.जीवन में लक्ष्य की आवश्यकता .

इसके पश्चात प्रश्नोतरी कार्यक्रम आयोजित किया गया | शांति मंत्र से कार्यक्रम का समापन हुआ| युवा प्रेरणा शिविर (द्वितीय चरण ) का आयोजन 20.7.2014 को कमला नेहरू शिशु विहार,पाटलीपुत्र कॉलोनी हुआ |  9.00 बजे पंजीयन प्रारंभ हुआ ,शिबिर गीत के पश्चात शिबिर परिचय हुआ|स्वमीजी के जीवन पर power point prensentation दिखाया गया | उसके पश्चात एक निबंध लेखन दिया गया जिसका विषय था “यदि स्वामीजी मेरे आदर्श हो तो मेरा भविष्य…” | सामूहिक चर्चा में “साधारण मनुष्य द्वारा असाधारण कार्य” विषय पर चर्चा और उसका प्रस्तुतीकरण हुआ| संस्कार वर्ग के बच्चों के माध्यम से स्वामीजी के जीवन की  तीन घटनाओं पर नाटक प्रस्तुत किया गया| 

खेल और क्विज़ के आयोजन के पश्चात् “मेरा भारत महान”  इस विषय पर एक power point prensentation दिया गया | अंत में केन्द्र के गतिविधियों के साथ-साथ कार्यपद्धति में समय दान के लिए आह्वान् किया गया साथ ही अगले रविवार से स्वाध्याय में उपस्थिति होगी ऐसा सभी प्रतिभागियों ने सहमति जताई है | शांति मंत्र के साथ इस युवा प्रेरणा शिबिर का समापन हुआ |

GURU PURNIMA AT AMEERPET, HYDERABAD

Guru Purnima was celebrated on 12 July 2014 by Vivekananda Kendra Hyderabad at its Ameerpet Center. About 40 well wishers including the participants of Yoga and Spoken English classes were present for the occasion. The Program started with Bhajans and was followed by an inspiring talk by Sri Chandrashekharji, Author and teacher from Mata Amritanandamayi University on the significance of the Guru-Shishya Tradition. Later, a  new Computer Training Centre was inaugurated by the newly nominated Nagar Sanchalak Smt. Veena Rao. The new Nagar Samiti was also introduced. The program concluded on a congenial note with the participants informal interaction.

INAUGURATION OF ARUN JYOTI MEDICAL VAN

The inaugural function of the medical van donated by IDRF (India Development and Relief Fund, USA) to Vivekananda Kendra,Arun Jyoti was organized at Rangfraa Mandir, New Chingsa, Kharsang, Arunachal Pradesh on 16th July 2014. A meeting was organized at the Mandir premises. Sri Nampong Ngemu, Vibhag Pramukh of Vivekananda Kendra, Arunachal Pradesh formally dedicated the service of the vehicle for the poor and needy patients of Arunachal Pradesh. Speaking on this occasion the Doctor of Vivekananda Kendra highlighted the health activities of Vivekananda Kendra in Arunachal Pradesh.

The priest sprinkled holy water over the vehicle with traditional chanting and blessed the medical team. Prasad was distributed among the villagers after the meeting.

After the meeting on the same venue one medical camp was organized and 51 patients were examined and treated. Next day i.e. on 17th July one more medical camp was organized at New Khimiyong village of Miao circle, where 107 patients were treated and medicines were distributed.